बिलासपुर में खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग जिला विकास एवं 20-सूत्रीय कार्यक्रम समिति बैठक की अध्यक्षता

मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व व प्रबंधन के कारण कोरोना के संकट के दौर में विकास की गति में नहीं आया ठहराव - राजिन्द्र गर्ग  

मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व व प्रबंधन के कारण कोरोना के संकट के दौर में विकास की गति में नहीं आया ठहराव – राजिन्द्र गर्ग
बिलासपुर 27 सितम्बर:- आज उपायुक्त कार्यालय के बचत भवन में जिला विकास एवं 20-सूत्रीय कार्यक्रम समिति बैठक की अध्यक्षता करते हुए खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री राजिन्द्र गर्ग ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण अनेक चुनौतियों व दिक्कतों का सामना करना पड़ा है परंतु प्रदेश के मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व व प्रबंधन के कारण हमने सभी चुनौतियों का एकजूट होकर सामना किया और विकास की गति में ठहराव नहीं आने दिया। इस सकंट की घडी में भी सभी वर्गों को राहत पहुंचाई है और जन जीवन को सामान्य बनाने व विकास की गति को तेज करने के प्रयास लगातार जारी रखे है।
ग्रामीणों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए मनरेगा योजना चलाई जा रही

उन्होंने जिला में विकास एवं 20-सूत्रीय कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए बताया कि ग्रामीणों को घर-द्वार पर रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए महत्वकांक्षी मनरेगा योजना चलाई गई है जिसके तहत गरीब व अपेक्षित वर्गों का उत्थान, महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देते हुए इस योजना के तहत रोजगार सृजन के लिए अब तक 1063 जाॅब कार्ड बनाने का लक्ष्य प्राप्त किया गया है। मनरेगा के अंतर्गत 407359 रोजगार दिवस सृजित किए गए है। इसके अतिरिक्त अनुसूचित जाति से सम्बन्धित परिवारों को रोजगार उपलब्ध करवाने के लिए जिला में 94970 रोजगार दिवस सृजित किए गए है।
राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत 209 स्वयं सहायता समूह बनाए गए

उन्होंने बताया कि जिला में अब तक राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत 209 स्वयं सहायता समूह बनाए गए। जल जीवन मिशन के तहत अप्रैल 2021 से अब तक 5810 घरों तक नल पहुंचा दिए गए है और वर्ष 2022 तक 2695 घरों में नल पहंुचाकर शतप्रतिशत लक्ष्य हासिल कर लिया जाएगा। ग्रामीण क्षेत्रों में स्वच्छता कार्यक्रम के तहत इस तिमाही में 154 शौचालय बना दिए गए है। इस योजना के तहत लाभार्थियों को 12 हजार रुपये की सहायता अनुदान राशि प्रदान की जा रही है।
उन्होंने बताया कि जिला विकास एवं 20-सूत्रीय कार्यक्रम के तहत प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत जिला बिलासपुर में 56.05 किलोमीटर लम्बी सड़कों का निर्माण किया गया है। मुख्यमंत्री ग्राम पथ योजना के तहत वर्ष 2020-21 के दौरान 38.55 लाख रुपये व वर्ष 2021-22 के लिए अब तक 21.28 लाख रुपये की राशि खर्च की जा रही है।
उन्होंने बताया कि जिला में लो वोल्टेज की समस्या को दूर करने के लिए 183 ट्रासंफार्मर, 4128 पुराने खम्बे तथा 12593 नए विद्युत कुनेक्शन लगाए गए है। उन्होंने बताया कि स्वारघाट और भराड़ी सब स्टेशन को अपग्रेड किया गया है तथा राम बाग सब स्टेशन को तैयार कर लिया गया है।
सभी विभाग योजना व कार्यक्रमों को गति देने में सराहनीय प्रयास कर रहे

उन्होंने व बैठक में आए जिला के विधायकगणों ने संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के दौर में भी जिला बिलासपुर में सभी विभागों द्वारा विभागीय योजना व कार्यक्रमों को गति देने में सराहनीय प्रयास किए जा रहे है।
बैठक में विधायक सदर सुभाष ठाकुर, झण्डूता के विधायक जे.आर. कटवाल, उपायुक्त पंकज राय, सभी विभागों के विभागाध्यक्ष, गैर सरकारी सदस्यों सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
.0.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.