टकारला केन्द्र पर हुई 250 क्विंटल धान की हुई खरीद

ऊना, 15 अक्तूबर – आॅनलाईन पंजीकरण द्वारा धान की खरीद की सुविधा के तहत आज प्रथम दिन जिला के 16 किसानों से टकारला खरीद केन्द्र पर 250 क्विंटल धान की फसल की खरीद की गई। यह जानकारी देते हुए उपायुक्त, ऊना राघव शर्मा ने बताया कि एफसीआई के माध्यम से जिला ऊना के टकारला व टाहलीवाल में दो धान खरीद केंद्रों खोले गए हैं। 
डीसी ने बताया कि टकारला केंद्र के लिए किसानों द्वारा 16 अक्तूबर तक के सभी स्लॉट बुक कर लिए गए हैं और आगे के दिनों के लिए भी किसानों ने स्लॉट की बुकिंग शुरू कर दी है। उन्होंने बताया कि प्रत्येक दिन के लिए 25 स्लॉट रखे गए हैं, ताकि कोरोना नियमों की अनुपालना सुनिश्चित बनाई जा सके। 
डीसी राघव शर्मा ने बताया कि धान की खरीद के लिए एफसीआई गणुवत्ता मानकों को लेकर दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सभी प्रकार की धान की किस्म की फसल पूर्ण रुप से सूखी, स्वच्छ, एक समान माप व रंग वाली और किसी भी प्रकार की अप्रिय गंध से रहित होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि फसल में इनआॅरगेनिक व आॅरगेनिक कणो की अधिकतम एक-एक प्रतिशतता जबकि क्षतिग्रस्त, फीके व अंकुरित अनाज की मात्रा अधिकतम 5 प्रतिशत, अपरिपक्व व सिकुड़ा हुआ अनाज अधिकतम 3 प्रतिशत, निम्न श्रेणी का मिश्रण 6 प्रतिशत जबकि नमी अधिकतम 17 प्रतिशत तक ही मान्य होगी। उन्होंने कहा कि किसान एफसीआई द्वारा निर्धारित मापदंडों के अनुसार ही मंडी में धान को बिक्री के लिए लाएं ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की असुविधा ने हो।
उन्होंने कहा कि खरीद केंद्रों पर धान बेचने वाले किसानों को ी http://hpappp.nic.inवेबसाइट पर ऑनलाईन पंजीकरण करवाना अनिवार्य किया गया है।  पंजीकरण स्वीकृत होने के बाद किसान को स्लॉट बुक करना होगा। वेबसाइट पर लाल रंग वाली तिथियों में सभी स्लॉट बुक हो गए हैं, जबकि हरे रंग में स्लॉट की उपलब्धता है। किसान अपनी सुविधा अनुसार स्लॉट की बुकिंग कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे कृषक जो अपने स्तर पर स्वयं पंजीकरण नहीं कर सकते हैं, वे पंजीकरण की प्रक्रिया पूर्ण करने की लिए नजदीकी लोकमित्र केन्द्रों की सेवाएं ले सकते हैं। इसके लिए अधिकतम 30 रुपए शुल्क निर्धारित किया गया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.