स्वर्ण जयंती’ आश्रय योजना के तहत उपलब्ध करवाए गए 07 करोड़ 81 लाख रुपए

ग्राम पंचायत आंजी, तोप की बेड़, पौधना, छावशा, दावंटी बताईं प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाएं

सोलन। सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग के कल्याण के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी प्रदान करने के लिए कार्यान्वित किए जा रहे विशेष प्रचार अभियान की कड़ी में आज सप्तक कलामंच के कलाकारों द्वारा सोलन विकास खण्ड की ग्राम पंचायत आंजी तथा तोप की बेड़, अक्षिता कलामंच के कलाकारों द्वारा कण्डाघाट विकास खण्ड की ग्राम पंचायत पौधना तथा छावशा एवं पूजा कलामंच बाड़ीधार के कलाकारों द्वारा कुनिहार विकास खण्ड की ग्राम पंचायत दावंटी के गांव लाहमो में लोगांे प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं से अवगत करवाया गया।

कलाकारों ने विशेष प्रचार अभियान के अन्तर्गत अनुसूचित जाति वर्ग के लिए कार्यान्वित की जा रही योजनाओं के साथ-साथ सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों तथा योजनाओं की जानकारी गीत-संगीत एवं नुक्कड़ नाटकांे के माध्यम से प्रदान की।

कलाकारों ने स्वर्ण जयंती आश्रय योजना की जानकारी देते हुए बताया गया कि अनुसूचति जाति, अनुसूचित जन जाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग जिनक नाम राजस्व रिकार्ड में हो को मकान बनाने के लिए 1.50 लाख रुपए का अनुदान प्रदान किया जाता है। इसके लिए लाभार्थी की वार्षिक आय 35 हजार से कम होनी चाहिए। कलाकारों ने जानकारी दी कि ज़िला में अभी तक अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति अन्य पिछड़ा वर्ग, दिव्यांग, विधवा, अल्पसंख्यक तथा एकल नारी वर्ग के 552 लाभार्थियों को ‘स्वर्ण जयंती’ आश्रय योजना के तहत 07 करोड़ 81 लाख रुपए उपलब्ध करवाए गए।

लोगों को बताया गया कि सोलन ज़िला में वर्तमान में 35890 पात्र लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पैंशन प्रदान की जा रही है। गत साढे़ 03 वर्षों में सामाजिक सुरक्षा पैंशन उपलब्ध करवाने पर लगभग 147 करोड़ रुपए व्यय किए गए हैं। ज़िला में 60 से 69 वर्ष के सामाजिक सुरक्षा पैंशन धारकों की संख्या 11 हज़ार 32 है। 70 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के पैंशनरों की संख्या 16855 है। 65 से 69 वर्ष आयुवर्ग में 2560 पात्र महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा पैंशन दी जा रही है।

कलाकारों ने बताया कि महिला सशक्तिकरण व पर्यावरण संरक्षण के उद्देश्य से कार्यान्वित की जा रही महत्वाकांक्षी हिमाचल गृहिणी सुविधा के तहत सोलन ज़िला में अभी तक लगभग 17 हजार लाभार्थियों को गैस कुनैक्शन निःशुल्क प्रदान किए गए हैं।

कलाकारों द्वारा इस अवसर पर नशा निवारण के साथ-साथ कोविड-19 नियमों के विषय में भी जागरूक किया गया। कलाकारों ने बताया कि कोविड-19 का खतरा अभी बना हुआ है। ऐसे में जरूरी है कि सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग करें तथा आवश्यक सोशल डिस्टेन्सिग नियम का पालन करें।

इस अवसर पर ग्राम पंचायत आंजी के प्रधान कविता देवी, वार्ड सदस्य बिलो देवी, हरि किशन, अनीता, मंजू, ग्राम पंचायत तोप की बेड़ सुमित कश्यप, उप प्रधान राजेश कुमार, वार्ड सदस्य हरि चंद, सत्या देवी, गीता शर्मा, नरेंद्र, ग्राम पंचायत पौधना की प्रधान अनीता, उप प्रधान संजीव कुमार, वार्ड सदस्य प्रमोद कुमार, राजेन्द्र कुमार, संतोष, गीता, रीता, पंचायत सचिव नरेश कुमार, ग्राम पंचायत छावशा के प्रधान ज्ञानचंद, उप प्रधान हरनाम सिंह, ग्राम पंचायत दावंटी की प्रधान इन्द्रा शर्मा, उप प्रधान हीरा सिंह कौण्डल, वार्ड सदस्य बृज लाल, पूर्व प्रधान धर्मपाल गर्ग, सहित काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.