सोलन ज़िला की मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के सम्बन्ध में बैठक आयोजित

सोलन। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त सोलन कृतिका कुलहरी ने आज यहां प्रथम जनवरी, 2022 की अहर्ता तिथि के आधार पर सोलन जिला के पांचों विधानसभा क्षेत्रों की फोटोयुक्त मतदाता सूचियों के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के दृष्टिगत विभिन्न मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता की।
उपायुक्त ने कहा कि भारत के निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार प्रदेश में फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण करवाने का निर्णय लिया गया है। यह विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 10 नवम्बर से आरम्भ होकर 9 दिसम्बर, 2021 तक कार्यान्वित किया जा रहा है। मतदाता सूचियों को 15 जनवरी, 2022 को अंतिम रुप में प्रकाशित किया जाएगा। विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के अनुसार फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का प्रारूप प्रकाशन 10 नवम्बर, 2021 को किया जाएगा। 10 नवम्बर से 9 दिसम्बर, 2021 तक दावे तथा आक्षेप दाखिल किए जा सकेंगे।
उन्होंने कहा कि इस पुनरीक्षण के दौरान ऐसे मतदाता जिनकी आयु प्रथम जनवरी, 2022 को 18 वर्ष पूर्ण हो चुकी है तथा जिनका नाम फोटोयुक्त मतदाता सूची में दर्ज नहीं है वे सभी समूचित फार्म भरकर अपना नाम दर्ज करवाने के लिए नवीनतम पासपोर्ट आकार की रंगीन फोटो, जन्मतिथि का साक्ष्य तथा अपने आवास से सम्बन्धित दस्तावेज की प्रति सहित मतदात केन्द्र के अभिहित अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत कर सकते है। मतदान केन्द्रों पर दावे व आक्षेप प्राप्त करने के लिए अभिहित अधिकारियों की नियुक्ति सम्बन्धित निर्वाचक पंजीकरण अधिकारी द्वारा की जाएगी।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि अभियान के दौरान 28 नवम्बर, 2021 रविवार के दिन विशेष अभियान दिवस होगा तथा 31 दिसम्बर, 2021 प्राप्त दावे व आक्षेपों का निपटारा किया जाएगा। फोटोयुक्त मतदाता सूचियों का अंतिम प्रकाशन 15 जनवरी, 2022 को किया जाएगा।
उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित मान्यता प्राप्त राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि उपरोक्त कार्यों के लिए सभी बूथ पर राजनीतिक दलों द्वारा बूथ स्तर के एंजेट की नियुक्ति की जानी है। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल अति शीघ्र प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिए एक-एक बूथ स्तर के एंजेट नियुक्त कर सम्बन्धित सूचना निर्धारित प्रपत्र पर सम्बन्धित निर्वाचक पंजीकरण अधिकारी तथा जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रस्तुत करें।
उन्होंने सभी राजनीतिक दलों और कार्यकर्ताओं से अनुरोध किया कि फोटोयुक्त मतदाता सूचियों को त्रुटिरहित अद्यतन रखने के लिए इस कार्य में नियुक्त सम्बन्धित अधिकारियों और कर्मचारियों को अपना पूर्ण सहयोग प्रदान करें।
बैठक में विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि, निर्वाचन विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।
.0.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.