थाना कलां में जल शक्ति विभाग के डिवीजन का किया शुभारंभ, नए कार्यालय भवन की आधारशिला भी रखी 

ऊना, 3 दिसंबरः ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य तथा पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने आज थाना कलां में जल शक्ति विभाग के डिवीजन का शुभारंभ किया। साथ ही उन्होंने 2.22 करोड़ रुपए की लागत से बनने वाले डिवीजन कार्यालय के नए भवन की आधारशिला भी रखी। थाना कलां में अधिशाषी अभियंता का कार्यालय खुलने से 1,08,971 की आबादी को लाभ होगा।
इस अवसर पर ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री ने क्षेत्रवासियों को नए कार्यालय की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि पिछले चार वर्षों में प्रदेश सरकार ने कुटलैहड़ में हजारों करोड़ रुपए के विकास कार्य करवाए हैं। उन्होंने कहा कि पानी की समस्या को दूर करने के लिए विशेष प्रयास हुए हैं। सतरह पंचायतों की पेयजल परियोजना से पहले जहां 4 लाख लीटर पानी की उपलब्धता थी, वहीं अब तक हुए इसके सुधारीकरण से पानी की उपलब्धता बढ़कर 16 लाख लीटर हो गई है। उन्होंने कहा कि जून 2022 तक अधिकतर परियोजनाओं का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा जिससे यहां 25 लाख लीटर पानी उपलब्ध होगा।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जिला ऊना राज्य का पहला जिला बन गया है, जहां पर हर घर तक नल व स्वच्छ जल पहुंचा दिया गया है। उन्होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत जिला ऊना को 200 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं तथा जिला ऊना में पिछले चार वर्षों में पानी के 36 हजार नए कनेक्शन प्रदान किए गए हैं। प्रदेश सरकार ने मार्च 2022 तक सभी जिलों में हर घर को नल व जल की सुविधा प्रदान करने का लक्ष्य रखा है।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ में वर्षा जल संग्रहण पर भी विशेष कार्य किया गया है। वर्षा जल संग्रहण से जहां सिंचाई की सुविधा मिल रही है, वहीं भूमि कटाव की समस्या पर नियंत्रण संभव हो रहा है। उन्होंने कहा कि समूर में 20 करोड़ रुपए की लागत से चैक डैम बनाया गया है, जिससे 5000 कनाल भूमि को सिंचाई की सुविधा मिलेगी। जल्द ही इस परियोजना का शुभारंभ किया जाएगा। इसके अतिरिक्त चपलाह नदी पर भी चैक डैम बनकर तैयार है, जिससे किसान के खेतों तक पानी पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अब डीहर, डोहगी तथा बंगाणा में चैक डैम लगाकर पानी को रोका जाएगा, जिसका शिलान्यास जल्द ही होगा।
शिवा परियोजना के तहत 27 कलस्टर बनेंगे
कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कुटलैहड़ विस क्षेत्र के तहत शिवा परियोजना में 27 नए कलस्टर बनाने का लक्ष्य रखा गया है। उन्होंने कहा कि एक-एक कलस्टर पर सरकार दो-दो करोड़ खर्च कर रही है, जिसके तहत बाड़बंदी, गड्ढों की खुदाई तथा हाइब्रिड फलदार पौधे लगाए जा रहे हैं, जिससे किसानों को लाभ मिलेगा। कंवर ने कहा कि सरकार किसानों व बागवानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए समर्पित भाव से कार्य कर रही है। उन्होंने बरनोह में एक रेस्ट हाउस बनाने की घोषणा भी की।
यह रहे उपस्थित
इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर लाल, जिप उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा, मंडल अध्यक्ष मास्टर तरसेम लाल, कैप्टन प्रीतम डढवाल, चरणजीत शर्मा, राजेंद्र मलांगड़, राम सिंह, पंचायत समिति बंगाणा अध्यक्ष देवराज शर्मा, बलवंत वर्मा, विजय शर्मा, चीफ इंजीनियर डॉ. शाम कुमार शर्मा, अधीक्षण अभियंता अरविंद सूद, अधिशाषी अभियंता नरेश धीमान, एके बंसल, एसडीओ हरभजन सिंह तथा राजेश कुमार शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।
–0–
 

Get real time updates directly on you device, subscribe now.